तट्टई | The bible story

 तट्टई



मुखाग्र पद :

१ पतरस-४:१६ “इसलिये जो परमेश्वर की इच्छा के अनुसार दुःख उठाते हैं, वे भलाई करते हुए, अपने अपने प्राण को विश्वासयोग्य सृजनहार के हाथ में सौंप दें। "

बाइबल का पाठ :

प्रस्तावना :

तद्दई एक ऐसा प्रेरित था जिस के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त नहीं है इस कारण उसके बारे में विवरण नहीं दिया जा सकता है। मत्ती और मरकुस इस प्रेरित को तद्दई नाम से पुकारते समय लूका प्रेरितों के कार्य में याकूब का भाई यहूदा समझते हैं। इस्करियोती यहूदा : लूका-६ः१६ और

  • याकूब का भाई यहूदा : यूहन्ना १४:२२, लूका ६:१६
  • प्रभु का भाई यहूदा : मत्ती-१३:५५
  • गलली यहूदा : प्रेरित ५ः३
  • सीधी नाम गली का यहूदा : प्रेरित-६:११

इनमें से इस्करियोती यहूदा और याकूब का भाई यहूदा यीशु मसीह के प्रेरित थे परन्तु याकूब का भाई यहूदा अपने प्राण नाथ को शत्रुओं के हाथ में सौंप बिना अन्त तक प्रभु की सेवा किया हुआ था। तद्दई पुकारनेवाला याकूब का भाई यहूदा था।

तद्दई का अन्त

तद्दई ने फारस में सुसमाचार सुनाया और वहां पर अन्यजाति लोगों के द्वारा याजकों के मार खाकर मारे जाने का विश्वास है।

शिक्षा :

हमारे द्वारा किये गये चमत्कारों के बारे में कुछ भी वर्णन करने के लिये नहीं है तो भी हमारे लिये प्राण दिये हुए हमारे प्रेमी लिये अन्त तक स्थिर रहना ही धन्य बात है। प्रभु और नाथ के

प्रश्न :

१. तद्दई शब्द का अर्थ क्या है?

२. तद्दई का दूसरा नाम क्या है? ३. तदुदई किस प्रकार मृत्यु को पाया?

तुम्हें जो करना है :

१. यीशु मसीह के शिष्यों के संबन्ध में सीखने का एक चार्ट तैयार करें। 

२. हमारे कार्य परमेश्वर की इच्छानुसार होने के लिये प्रार्थना करें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ